Chhattisgarh News || छत्तीसगढ़ समाचार

विद्दुत संविदा कर्मियों द्वारा नियमितरण की मांग को लेकर 16 जून एकदिवसीय काम बंद प्रदर्शन …

On 16th June, one-day work-stopped demonstration for the demand of regularization by the electrical contract workers ...

रायगढ़ :-  पावर कंपनी में हर माह नियमित कर्मचारियों की कमी होती जा रही है, जिससे कंपनी द्वारा संविदा कर्मचारियों व आउटसोर्सिंग कर्मचारियों से काम कराया जा रहा है। विद्युत विभाग में पदस्थ संविदाकर्मियों के द्वारा उनके अधिकृत क्षेत्र से बाहर का काम कराया जाता है जिसमें उन्हें खम्बे पर चढ़ाकर काम कराया जा रहा है। इस काम के दौरान उनकी जान में जोखिम बनी रहती है। विगत वर्षों में कई विद्युत संविदा कर्मियों की दुर्घटनाएँ हुई जिसमें, विगत 2 वर्षों 18 से अधिक संविदाकर्मियों की जान भी चली गई। फिर भी कंपनी के द्वारा उन्हें उचित सहायता भी नहीं मिलता है। दूसरी ओर नियमित कर्मचारियों का वेतन भी हमसे कई गुना अधिक होता है और उन्हें आर्थिक सहायता भी मिलती है।

नियमित न होने के कारण कम्पनी ने किसी तरह से कोई आर्थिक मदद नहीं मिलती है। संविदाकर्मियों द्वारा लगातार नियमितिकरण का मांग किया जा रहा है, परंतु प्रबंधन उनकी मांगों को लेकर हमेशा टालमटोल कर रहा है। इससे सभी संविदा कर्मियों में आक्रोश व्याप्त है। इस नियमितीकरण की मांग को लेकर संविदाकर्मियों द्वारा 16 जून को एक दिवसीय सांकेतिक काम बंद प्रदर्शन किया जाएगा।

संविदाकर्मियों द्वारा कुछ दिवस पूर्व 7 जून को नियमितीकरण की मांग को लेकर, विद्दुत विभाग प्रबंधन को ज्ञापन सौंपा जा चुका है जिसमें 16 जून को सांकेतिक काम बंद का उल्लेख है।

उसी तारतम्य में दिनांक 8जून 2021 को विद्युत संविदाकर्मियों द्वारा रीजन स्तर पर विद्युत कार्यालय रायगढ़ रीजन में मुख्य अभियंता और अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन सौंपा गया।

इससे पूर्व भी वर्ष 2019-20 में नियमितीकरण को लेकर संविदाकर्मियों द्वारा पत्राचार और शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन किया जा रहा है। वर्ष 2019 में कंम्पनी प्रबन्धन ने संविदाकर्मियों के नियमितिकरण के लिए जानकारी एकत्रित किया गया। कम्पनी में कार्यरत विभिन्न कर्मचारियों एवं अधिकारियों को पदोन्नत भी किया गया।

अनिश्चितकालीन काम बंद पर भी जा सकते हैं…?

सांकेतिक काम बंद प्रदर्शन के बाद भी अगर विद्युत विभाग प्रबंधन द्वारा संविदाकर्मियों के नियमितिकरण के मुद्दे को गम्भीरता से नहीं लिया गया तो आगामी दिनों में विद्युत विभाग के संविदाकर्मी प्रादेशिक स्तर पर आंदोलन करने के लिये विवश हो जाएंगे और अनिश्चितकालीन काम बंद पर भी जा सकते हैं।

धान के पराली ( पैरा )को खेतों में छोड़कर आग ना लगाये, उससे करे पैरा मशरूम की खेती…जानिए कैसे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button